रिटा. सब-इंस्पेक्टर सुसाइड केसः इस वजह से की थी आत्महत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार

[ad_1]

सुशील कौशिक

ग्वालियर.  मध्य प्रदेश के ग्वालियर में रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर की सुसाइड के मामले में नया खुलासा हुआ है. रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर ने लोगों की ब्लैकमेलिंग के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या की थी. पुलिस ने महिला,पुरुष,डॉक्टर सहित 10 लोगों पर मामला दर्ज किया है. सभी आरोपी ब्लैकमेल कर दुष्कर्म के झूठे केस में फंसा देने की धमकी दे रहे थे. आरोपियों ने धमकी देकर 10 लाख रुपये तक ऐंठ लिए थे. मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट को लेकर पुलिस जांच कर रही थी. वहीं, पुलिस ने आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का 10 लोगों पर मामला दर्ज कर 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

आपके शहर से (ग्वालियर)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

दरअसल, गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के पंचशील नगर निवासी जयश्रीराम मुजौरिया रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर थे. 22 नवंबर को अपने घर की चौथी मंजिल पर बने कमरे में फांसी लगाकर जान दी थी. घटना का पता उस समय चला जब बेटा उन्हें तलाशते हुए ऊपर छत के कमरे पर पहुचा. जंहा रिटायर्ड दारोगा फांसी के फंदे पर लटके हुए थे, लेकिन जब तक उनकी मौत हो चुकी थी. मौके पर पहुंची पुलिस ने जब जांच की तो पता चला कि मृतक ने सुसाइड करने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें आरोपी उन्हें झूठे दुष्कर्म के मामले में फंसाने की धमकी देकर ब्लैकमेल कर रहे थे और फोन पर धमकाने के साथ ही वह घर पर आकर धमका रहे थे.

आरोपियों ने रिटायर्ड दरोगा को ब्लैकमेल कर करीब दस लाख रुपए से ज्यादा ऐंठ लिए थे और उसके बाद भी ब्लैकमेल कर उनके जीपीएफ का पूरा पैसा निकाल लिया था और इसी के बाद से दारोगा परेशान थे और उन्होंने जान दी थी.

पुलिस ने रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर द्वारा सुसाइड करने के मामले की जांच के खुलासे के बाद संसार खान, आरजू खान, रूखसार, नगमा, रेशमा खान, पिंटू खान, सोनू खान, गुलसन खान, भैया खान और डॉक्टर सतीश गोयल के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज किया और दबिश देकर 4 लोगो को गिरफ्तार कर लिया है.

Tags: Gwalior crime, MP Police

[ad_2]

Source link